AmarHindi

Air Pollution in Hindi (Causes,Effects and Reason)

हवा प्रदूषण क्या है कैसे फैलता है क्या कारण है

Air Pollution in Hindi : पृथ्वी पर मनुष्यों द्वारा फैले प्रदूषण के कारण मनुष्य को समय-समय पर नई-नई बीमारियों का सामना करना पड़ता है। कणों, कार्बनिक अणुओं और अन्य हानिकारक पदार्थों के जुड़ने से पर्यावरण में दिन-प्रतिदिन ताजी हवा प्रदूषित होती है। वायु प्रदूषण मुख्य पर्यावरणीय समस्याओं में से एक है जैसे Water Pollution है जिसे सभी के सामूहिक प्रयास से संबोधित और हल किया जाना चाहिए। इस लेख में हम वायु प्रदूषण के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे।

Meaning of Air Pollution in Hindi

वायु प्रदूषण का हिंदी में अर्थ

Air Pollution in Hindi: वायु पृथ्वी पर जीवन का एक अनिवार्य तत्व है। इससे हम और जानवर ऑक्सीजन प्राप्त करते हैं, जो जीवन का आधार है, और इससे पौधे कार्बन डाइऑक्साइड प्राप्त करते हैं जिससे वह भोजन करता है। वातावरण एक कंबल की तरह है, जिसके बिना तापमान अधिक या बहुत कम होगा। वायुमंडल ही हमें पराबैंगनी किरणों से बचाता है और उल्काओं को जलाकर नष्ट कर देता है।


वास्तव में वायु में मौजूद गैसों पर बाहरी प्रभाव (प्राकृतिक या मानव) वायु प्रदूषण के लिए जिम्मेदार है। हमारी पृथ्वी का वातावरण विभिन्न प्रकार की गैसों से बना है, जिसमें मानव और अन्य जीवों के जीवन के लिए ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है।
जो वायुमंडल में लगभग 24% है। लेकिन धीरे-धीरे पृथ्वी पर हो रहे बदलावों के कारण ऑक्सीजन की मात्रा कम होती जा रही है, इसमें कई तरह की जहरीली गैसें घुल रही हैं।

air pollution in hindi
Air Pollution Essay


सरल शब्दों में स्वच्छ वायु में रसायनों, कणों, धूल, जहरीली गैसों, कार्बनिक पदार्थों, कार्बन डाइऑक्साइड आदि के कारण वायु प्रदूषण होता है।

Sources of Air Pollution

वायु प्रदूषण के स्रोत

Air Pollution in Hindi : वायु प्रदूषण के प्रमुख स्रोत या तो प्राकृतिक या मानवजनित हो सकते हैं।

(1) प्राकृतिक स्रोत: – Natural Cause

वायु प्रदूषण के प्राकृतिक स्रोत हैं:

(A) जंगल की आग – Forest Fire

(B) हवा – Air

(C) मिट्टी का क्षरण – soil erosion

(D) ज्वालामुखी विस्फोट – Volcano Eruption

(E) वाष्पशील कार्बनिक पदार्थों का वाष्पीकरण, और – evaporation of volatile organic matter, and

(F) जीवाणु अपघटन उत्पाद। – bacterial decomposition product.

(2.) मानवजनित स्रोत: – Man Made Source of Air Pollution

वायु प्रदूषण का मानव निर्मित स्रोत

(A) ऑटोमोबाइल निकास : automobile exhaust:

इनमें कार्बन मोनोऑक्साइड (CO), नाइट्रोजन के ऑक्साइड, इथेन, एथिलीन, 3, 4- बेंजोपायरीन होते हैं। ये गैसें पेट्रोल और डीजल के अधूरे दहन के कारण होती हैं।

(B) औद्योगिक निकास : industrial exhaust

उद्योग मुख्य रूप से रासायनिक कारखाने, कागज, और लुगदी, चीनी, पेट्रोलियम रिफाइनरी, स्टील प्लांट आदि मुख्य वायु प्रदूषण एजेंट हैं। औद्योगिक निकास में CO, CO2, SO2, NO जैसी गैसें होती हैं।

NO2, N2O, Cl2, F2, NH3 और पार्टिकुलेट मैटर।

(C) Release of organic matter: कार्बनिक पदार्थों का जैविक अपघटन, प्राकृतिक गैस और तेल क्षेत्रों से रिसाव, पौधों से वाष्पशील उत्सर्जन, सीवेज गैस, आदि जैसी प्रक्रियाएं कार्बनिक पदार्थों जैसे CH4, C2H6, C6H5NH2 की रिहाई के कारण हैं। , C2H4, आदि।

(D) Release of Chlorofluorocarbons (CFCs):

क्लोरोफ्लोरोकार्बन एयर कंडीशनर, रिफाइनरियों, कोल्ड स्टोरेज के प्री-कूलर सिस्टम आदि से वातावरण में छोड़ा जाता है।

(E) Photochemical oxidant:

ये ओजोन (Ozone) और पेरोक्सीएसिलनाइट्रेट (PAN) हैं जो कुछ प्रकाश रासायनिक प्रतिक्रियाओं द्वारा निर्मित होते हैं।

(F) तंबाकू धूम्रपान करता है; यह सिगरेट और बीड़ी से बनता है।

(G) Particle pollution:

वायुमंडल में निलंबित ठोस और तरल एरोसोल को पार्टिकुलेट मैटर कहा जाता है। ये अयस्कों के पीसने, छिड़काव और मिट्टी के कटाव से उत्पन्न होते हैं। एरोसोल रसायन होते हैं, जो वाष्प के रूप में हवा में छोड़े जाते हैं। उदाहरण के लिए, ऑटोमोबाइल से सीसा युक्त गैसोलीन का धुआँ, सीसा संदूषण का मुख्य स्रोत है।

(H.) agricultural chemicals:

कृषि रसायन जैसे कीटनाशक, कीटनाशक, कवकनाशी, शाकनाशी आदि भी प्रदूषक के रूप में हवा में छोड़े जाते हैं।

(I) explosives in war:

युद्ध में परिष्कृत विस्फोटकों के विस्फोटों के दौरान कई जहरीली गैसें वातावरण में छोड़ी जाती हैं।

(J) फोटोकैमिकल स्मॉग – Photochemical smog:

जब विभिन्न गैसें जैसे SO2, NO, N2O, NO2 और बिना जले हाइड्रोकार्बन को वायुमंडल में छोड़ा जाता है, तो ये धूल और नमी के साथ मिलकर फोटोकैमिकल स्मॉग बनाते हैं।

(k) Mining activity:

खनन गतिविधियों के दौरान यानी अयस्कों को कुचलने और पीसने के दौरान, बहुत सारे पार्टिकुलेट मैटर वातावरण में छोड़े जाते हैं।

(L.) Release from fertilizer plants:

अमोनियम उर्वरक संयंत्रों से अमोनिया गैस निकलती है

(M.) jet and aircraft emissions:

जेट और विमानों से कार्बन मोनोऑक्साइड गैस और बिना जले हाइड्रोकार्बन की एक महत्वपूर्ण मात्रा जारी की जाती है।

(N.) घरेलू जलना: कोयले, मिट्टी के तेल, गोबर के उपले आदि के घरेलू जलने से CO2, CO, SO2, आदि निकलते हैं।

Effects of Air Pollution

Effects of Air Pollution in Hindi

वायु प्रदूषण के महत्वपूर्ण प्रभाव इस प्रकार हैं:

  1. वायुमंडलीय कण, औद्योगिक और घरेलू ताप उद्देश्यों के लिए ईंधन के दहन के कारण, सूर्य के प्रकाश को बिखेर सकते हैं और अवशोषित कर सकते हैं और इस प्रकार दृश्यता को कम कर सकते हैं।
  2. CO2 का बढ़ा हुआ स्तर ग्रीनहाउस प्रभाव का कारण बनता है।
  3. क्लोरोफ्लोरोकार्बन (सीएफसी) और नाइट्रोजन ऑक्साइड ओजोन परत की कमी और ओजोन छिद्र का कारण बनते हैं।
  4. पार्टिकुलेट मैटर के प्रभाव में धातुओं का क्षरण, इमारतों, मूर्तियों और चित्रित सतहों का क्षरण, और कपड़ों और ड्रेपरियों की गंदगी, बिजली के उपकरणों की क्षति आदि शामिल हैं।
  5. जानवरों और मनुष्यों पर पार्टिकुलेट मैटर के जहरीले प्रभावों को वर्गीकृत किया जा सकता है:

(i) रासायनिक या भौतिक गुणों के कारण आंतरिक विषाक्तता।

उदाहरण के लिए, सीओ हीमोग्लोबिन के साथ संयोजन कर सकता है और इसकी ऑक्सीजन-वहन क्षमता को कम कर सकता है। चूंकि सीओ में ऑक्सीहीमोग्लोबिन की समन्वय स्थिति पर कब्जा करने के लिए ऑक्सीजन की तुलना में अधिक आत्मीयता है, यह कम आंशिक दबाव पर भी ऑक्सीजन को हटा सकता है।

HbO2+ CO→ HbCO + O2

श्वसन तंत्र में निकासी तंत्र के साथ हस्तक्षेप। उदाहरण के लिए, क्रोनिक ब्रोंकाइटिस और वातस्फीति भी SO2 के कारण पाए गए हैं। विषाक्त पदार्थों को अवशोषित करने के कारण विषाक्तता। उदाहरण के लिए, वाहन के निकास से लेड के कण, उच्च खुराक में, एकमुश्त मार सकते हैं लेकिन कम खुराक में जीवन काल कम हो जाता है और तंत्रिका तंत्र में गिरावट आती है।

  1. सल्फर और नाइट्रोजन के ऑक्साइड वायुमंडल के जलवाष्प के साथ मिलकर अम्लीय वर्षा का कारण बनते हैं।
  2. बेंजपाइरीन बहुत कम सांद्रता पर भी शहरी क्षेत्रों में उच्च कैंसर दर में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।
  3. छोटे ठोस कण सूक्ष्मजीवों और अन्य संक्रामक एजेंटों के वाहक के रूप में काम कर सकते हैं और इस तरह बीमारियों को फैला सकते हैं।

Nature Made Causes of Air Pollution in Hindi

वायु प्रदूषण के प्राकृतिक कारण।
(१) हमारी पृथ्वी पर कई ज्वालामुखी हैं, जिनका अभी भी समय-समय पर अध्ययन किया जा रहा है और उनमें से जहरीली गैसें और लावा निकलता रहता है, इसलिए वायु प्रदूषण बढ़ता रहता है।
(२) पृथ्वी पर कई बड़े-बड़े जंगल हैं, जिनमें बहुत सारे पेड़, पौधे और वनस्पतियाँ हैं, खासकर गर्मियों में जंगलों में आग लग जाती है, इसलिए पूरा जंगल जलने लगता है जिससे बड़ी मात्रा में धुँआ निकलता है। . वायु उत्पन्न होने का क्या कारण है प्रदूषण है।


(३) हमारे वातावरण में धूल भरी मिट्टी हर समय बहती रहती है, इसका कारण यह है कि कभी तेज हवा चलती है तो कभी तूफान आते हैं, इसलिए धूल का एक बादल ऊपर उठता है और पूरी हवा को प्रदूषित कर देता है।

How To Stop Air Pollution in Hindi


(४) पृथ्वी के वायुमंडल में कई बैक्टीरिया मौजूद हैं, जिनमें से कुछ अच्छे हैं और कुछ हमारे शरीर के लिए हानिकारक हैं। वे खुली आँखों से हमें दिखाई नहीं देते, लेकिन हवा के साथ हमारे शरीर में प्रवेश कर जाते हैं। जिससे हमारा शरीर किसी न किसी बीमारी का शिकार हो जाता है।
(५) दुनिया के हर देश में फूलों के बगीचे हैं। जिसमें फूल बड़ी मात्रा में उगते हैं, लेकिन उन फूलों में फूल पराग बहुत कम मात्रा में होते हैं, जो थोड़ी सी हवा के कारण उड़ने लगते हैं और उसके कारण वायु प्रदूषण हो जाता है।


(६) कई धूमकेतु और उल्का हैं जो पृथ्वी के चारों ओर अंतरिक्ष में घूमते हैं और कभी-कभी हमारी धूल भरी मिट्टी के कारण हमारा पूरा वातावरण प्रदूषित होने के कारण पृथ्वी से टकराते हैं।
(७) यहां जानवरों को कई चीजों के लिए पाला जाता है। जानवर भी हवा को प्रदूषित करते हैं क्योंकि वे जो गैस छोड़ते हैं वह मीथेन के रूप में निकलती है, जो हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।

Man Made Causes of Air Pollution in Hindi

(१) कल के बड़े उद्योग, व्यवसाय और कारखाने किसी भी देश के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं, लेकिन इन कारखानों के कारण हमारा वातावरण दिन-ब-दिन प्रदूषित हो रहा है क्योंकि ये कारखाने हानिकारक धुएं और गैसों का उत्सर्जन करते हैं जो पूरे पर्यावरण को प्रदूषित करते हैं।
(२) अंधाधुंध वनों की कटाई के कारण बहुत अधिक वायु प्रदूषण होता है क्योंकि कार्बन डाइऑक्साइड को पेड़-पौधे अवशोषित कर लेते हैं और बदले में ऑक्सीजन छोड़ते हैं, लेकिन पेड़ कम होने से वातावरण में कार्बन डाइऑक्साइड की मात्रा बढ़ जाती है। हो गया


(३) जनसंख्या वृद्धि भी वायु प्रदूषण का मुख्य कारण है। बढ़ती आबादी की जरूरतों को पूरा करने के लिए अधिक संसाधनों की भी जरूरत होती है, इसलिए वायु प्रदूषण भी बढ़ रहा है।
(४) फसल के बाद, फसल के डंठल को खेत में छोड़ दिया जाता है जिसे किसान जलाते हैं और सभी देशों में कृषि अधिक मात्रा में होती है और हमारे भारत देश की बात करें तो हमारा देश एक कृषि प्रधान देश है जहाँ ज्यादातर किसान केवल लोग रहते हैं इसलिए डंठल बड़ी मात्रा में खेतों में छोड़ दिए जाते हैं। जलने पर धुएं का गुबार हवा में उठता है।


(५) जैसे-जैसे जनसंख्या बढ़ती है, वैसे ही विलासिता की चीजों में लोगों की रुचि बढ़ती है, लोग हर दिन नए वाहन खरीदते हैं, इसलिए वाहनों से निकलने वाला धुआँ हवा में घुल जाता है और प्रदूषित हो जाता है। देता है।
(६) दुनिया के सभी देश अपनी शक्ति का प्रदर्शन करने के लिए परमाणु परीक्षण कर रहे हैं क्योंकि जहरीले तत्व हवा में घुल जाते हैं और पूरा वातावरण परमाणु बमों से नष्ट हो रहा है।


(७) हर दिन हम घरों से सूखा और गीला कचरा पैदा करते हैं, हम अज्ञानता में सूखा कचरा जलाते हैं और सोचते हैं कि इसका प्रदूषण क्या होगा, लेकिन अगर हमें करना है, तो हम दुनिया भर में बहुत कुछ करते हैं और हाँ रोज कोई ना कोई कूड़ा निकलता है। यदि आप इसे मिलाते हैं, तो यह बहुत अधिक हो जाता है और इसे जलाने से संदूषण की मात्रा बढ़ जाती है।

(८) हमें मरे हुए जानवरों को एक जगह से दूसरी जगह भटकते हुए देखने को मिलता है, जिनसे भयानक गंध आती रहती है और उनमें कई तरह के कीटाणु पैदा होते हैं जो पूरी हवा को प्रदूषित करते हैं, जिससे कई बीमारियां भी फैलती हैं।
(९) आजकल सभी लोग रासायनिक पदार्थों से बनी चीजों का उपयोग करने लगे हैं। वे थोड़ी देर बाद खराब होने लगते हैं और उनमें से एक जहरीला पदार्थ निकलने लगता है जो हवा में आसानी से घुल जाता है और पूरी हवा को प्रदूषित कर देता है।
(१०) दुनिया भर में धूम्रपान करने वालों की संख्या बहुत अधिक है और उनकी संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है, जो हमारे पर्यावरण की स्वच्छ हवा को प्रदूषित कर रही है।


(११) वर्तमान में किसान अच्छी फसल के लिए खेतों में कीटनाशकों का उपयोग कर रहे हैं, इसलिए हर बार जब वे फसल पर कीटनाशक का छिड़काव करते हैं, तो वह कीटनाशक हवा में जाकर उसे प्रदूषित कर देता है।
(१२) भारत में आज भी गाँव में गैस का उपयोग नहीं होता है और बड़ी मात्रा में जलाऊ लकड़ी जलाई जाती है, जिससे धुआँ पैदा होता है जो हवा में मिल जाता है और पूरी हवा को प्रदूषित कर देता है।

(१३) कोयला अभी भी बिजली पैदा करने का सबसे सस्ता साधन है, लेकिन इससे बहुत प्रदूषण होता है।
(१४) औद्योगिक निर्माण भी उसी गति से हो रहा है जैसे दुनिया आगे बढ़ रही है। हर जगह निर्माण कार्य चल रहे हैं, क्योंकि सीमेंट, धूल आदि हवा में उठते रहते हैं, इसलिए हवा प्रदूषित होती रहती है।

Ways To Stop Air Pollution in Hindi

i) यदि हम वायु प्रदूषण को नियंत्रित करना चाहते हैं, तो हमें अधिक से अधिक पेड़ लगाने चाहिए क्योंकि पेड़ पौधों से ऑक्सीजन छोड़ते हैं और कार्बन डाइऑक्साइड को अवशोषित करते हैं। क्योंकि ज्यादातर प्रदूषित हवा साफ हो जाती है। वर्तमान में बड़ी संख्या में पेड़-पौधे काटे जा रहे हैं, इसलिए वायु प्रदूषण बड़ी मात्रा में फैल रहा है।
(ii) आज पूरा विश्व जनसंख्या वृद्धि की समस्या से जूझ रहा है। यदि हम जनसंख्या वृद्धि को नियंत्रित कर सकते हैं, तो वातावरण में कार्बन डाइऑक्साइड कम होगी और हमें कम उद्योग स्थापित करने होंगे। इससे प्रदूषण की मात्रा कम होगी। जनसंख्या वृद्धि वायु प्रदूषण का प्रमुख कारण है।


(iii) हमें उन कारखानों को बंद करना चाहिए जो बहुत अधिक प्रदूषण करते हैं और कारखानों की चिमनियों की ऊँचाई जो हमें चाहिए वह अधिक होनी चाहिए ताकि हमारा वातावरण कम प्रभावित हो।
(iv) हमें ऊर्जा के नए स्रोत खोजने चाहिए। हमें कोयले और परमाणु ऊर्जा का उपयोग कम करना चाहिए।
(v) हमें सौर ऊर्जा का अधिक मात्रा में उपयोग करना चाहिए, जिससे वायु प्रदूषण नहीं होगा और हमें पूरी ऊर्जा भी प्राप्त होगी।


(vi) हमारे देश में जब भी कोई निर्माण कार्य होता है तो वह बाहर ही किया जाता है, जिससे हर तरफ धूल-मिट्टी उड़ती रहती है और पूरा वातावरण प्रदूषित हो जाता है। जब भी हम निर्माण कार्य करते हैं, तो उन्हें ऐसे कपड़े से ढकने की सलाह दी जाती है जो हवा को प्रदूषित न करे।

(vii) हमारे भारत देश में आज भी पुराने वाहन बड़ी मात्रा में जहरीला धुआं छोड़ते हुए सड़कों पर चल रहे हैं। वे पूरे पर्यावरण को प्रदूषित करते हैं। एक पुराना वाहन 10 नए वाहनों जितना धुआं उत्सर्जित करता है, जो वायु प्रदूषण में प्रमुख भूमिका निभाता है।
(viii) यदि हमें वायु प्रदूषण को कम करना है, तो हमें अधिक सार्वजनिक वाहनों का उपयोग करना होगा, जिससे प्रदूषण कम होगा।
(ix) वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए हमारी सरकार को नए नियम स्थापित करने चाहिए और प्रदूषण नियंत्रण से संबंधित प्रमाण पत्र अनिवार्य होने चाहिए, जैसे वायु प्रदूषण अधिनियम (1981) में कठोरता दिखाई जानी चाहिए।


(x) यदि हम किसी भी प्रकार के प्रदूषण को नियंत्रित करना चाहते हैं तो लोगों को प्रदूषण के प्रति जागरूक होना चाहिए। हमें पटरियां खींचकर लोगों को प्रदूषण के प्रति जागरूक करना चाहिए और स्कूलों में प्रदूषण पाठ्यक्रम होना चाहिए। जो बच्चे बचपन से जानते हैं कि किस काम को करने से प्रदूषण फैलता है।
(xi) हमें शहर जाना चाहिए और नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से लोगों को समझाना चाहिए कि प्रदूषण हमारे स्वास्थ्य के लिए कितना हानिकारक है, तभी हम वायु प्रदूषण को नियंत्रित कर सकते हैं।

Conclusion:

वायु प्रदूषण घातक है। इसे नियंत्रित करना आवश्यक है, अन्यथा पृथ्वी पर जीवन के सभी निशान मिट जाएंगे। जब तक हम सभी वायु प्रदूषण को कम करने के बारे में नहीं सोचते, तब तक वायु प्रदूषण कम नहीं हो सकता क्योंकि हमारी सरकार हर गली और कस्बे में जाकर वायु प्रदूषण को नियंत्रित नहीं कर सकती है, इसलिए हमें एक कदम आगे बढ़कर वायु प्रदूषण के बारे में जागरूकता बढ़ानी होगी। इस संबंध में और अपने उपायों की व्याख्या करें, तभी हम वायु प्रदूषण को नियंत्रित कर सकते हैं।


दुनिया भर के लोगों के सामूहिक प्रयास वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं। औद्योगिक क्षेत्रों को आवासीय क्षेत्रों से दूर स्थापित किया जाना चाहिए, लंबी चिमनी (फिल्टर और इलेक्ट्रोस्टैटिक प्रीसिपिटेटर के साथ) के उपयोग को प्रोत्साहित करना चाहिए, छोटे तापमान संकेतकों के बजाय उच्च तापमान संकेतकों को प्रोत्साहित करना, गैर-ज्वलनशील ऊर्जा स्रोतों का उपयोग करना, गैसोलीन पर एंटीक एजेंटों के उपयोग को बढ़ावा देना , वृक्षारोपण को बढ़ावा देना और कई और सकारात्मक प्रयास। तभी वायु प्रदूषण को नियंत्रित किया जा सकता है।

दोस्तों हमारी इस Website  पर आपको हिंदी में ऐसी ही (Air Pollution in Hindi) की तरह बहुत सारे Post पड़ने को मिलेगी जो बहुत Useful Hai | और अगर आपको हमारी ये Air Pollution in Hindi अछि लगी हो तो Comment Karke Batae

You Can Also Visit here: True Love Story in Hindi Sad (2021)

Here is the End of Post : Air Pollution : वायु प्रदूषण

You Should Also Check Kabaddi in Hindi Wiki – 

You Can Also Read :

Kabaddi in Hindi

True Love Sad Story in Hindi

Computer Full Form in Hindi

Water Pollution in hindi


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *